Buy Online Narmadeshwar Shivling + Crystal Nandi Combo

by Prabhubhakti order on March 24, 2023

आइये जानते है की शिवलिंग आपकी जिंदगी में क्या बदलाव लेकर आएगा ​

हमारे शास्त्रों में यह बताया गया है की घर में अंगूठे के बराबर का शिवलिंग रखा जाना चाहिए | सबसे पहली बात यह है की जहाँ महादेव का वास हो जाता है उस घर में कभी भी भूत प्रेत, ऊपरी बाधा टिक नहीं पाती है। अगर आपको लगता है की आपके घर में नकारात्मक ऊर्जा है और बहुत सारा मेहनत करने के बाद भी धन की कमी रहती है, परिवार में कोई ना कोई बीमार रहता है और बहुत सारा पैसा इलाज़ में खर्च हो जाता है तो आपको तुरंत नर्मदेश्वर शिवलिंग अपने घर में रखना चाहिए |अगर आपके पास पैसा नहीं रुक रहा है तो आप शिवलिंग पर रोज़ाना दूध मिश्रित जल अर्पित करे और साथ में ॐ नमः शिवाय मंत्र का उच्चारण करे इससे जल्दी ही आपकी परेशानी खत्म हो जाएगी |अगर आपके पास नौकरी नहीं है या फिर आत्मविश्वास की कमी है और हमेशा मन में भय लगा रहता है तो आप शिवलिंग पर रोज़ाना बेल पत्र अर्पित करे |
नर्मदेश्वर शिवलिंग कहाँ मिलेगा - असली नर्मदेश्वर शिवलिंग की पहचान क्या होती है ​
नर्मदेश्वर शिवलिंग अपने आप में ही बाकि सबसे अलग दिखता है और इसमें अपने आप की प्राकृतिक रूप से अलग अलग डिज़ाइन/आकृति बानी हुई रहती है।आप वीडियो में भी देख सकते है की सारे शिवलिंग एक जैसे से नज़र आ रहे है लेकिन हर शिवलिंग में आपको कुछ ना कुछ अलग डिज़ाइन सा बना हुआ होता हैअगर आप घर में शिवलिंग रखना चाहते है तो अभिमंत्रित और पूजा विधि किया हुआ शिवलिंग रखे जैसा वीडियो में दिखाया गया है इससे आपको तुरंत लाभ मिलेगा।

नर्मदेश्वर शिवलिंग घर में कब रखना चाहिए और कैसे स्थापित करे

आप इसे अपने घर पर कभी भी मंगवा सकते है क्यूंकि ऑनलाइन आने में काफी समय लगता है लेकिन मंगवाने के बाद आप सोमवार के दिन इसकी स्थापना करे क्यूंकि सोमवार का दिन भगवान् शिव का सबसे प्रिय दिन है। आप इसे घर के मंदिर में रख सकते है या फिर ऐसी जगह जहाँ आप रोज़ जल अर्पित कर सके |1. Original Narmadeshwar Shivling buy online को स्थापित करने से पहले स्वयं को शुद्ध कर ले और इसे स्थापित करने वाली जगह को अच्छी तरह साफ कर ले।
2. अपने पूजा स्थल पर बेलपत्र से गंगाजल छिड़कें और साफ कपड़े से पोंछ ले।
3. किसी भी पवित्र स्थल या पूजा स्थल पर पीले कपड़े के ऊपर Narmadeshwar Shivling with Stone base को स्थापित करें।
4. ध्यान रहे की पूजा करते समय नर्मदेश्वर शिवलिंग का मुख्य केवल उत्तर या पूर्व की दिशा की ओर हो।
5. अब big shiv ling को रोरी-चावल, बेलपत्र और प्रसाद चढ़ाएं।
6. इस शिवलिंग को पूजने के बाद ‘ॐ नमः शिवाय’ मंत्र का 108 बार जाप करें।
7. सोमवार के दिन या किसी चंद्र नक्षत्र जैसे रोहिणी, हस्त या श्रवण नक्षत्र में आप इस buy Shiva lingam online को स्थापित कर सकते हैं।
क्या महत्व है नर्मदेश्वर शिवलिंग का​

What is the significance of Narmadeshwar shivling?

1. नर्मदेश्वर कहलाये जाने वाला यह शिवलिंग कुंडलिनी को ऊपर उठाने और शरीर के ऊर्जा केंद्र को खोलने के लिए जाना जाता है।
2. कहा जाता है कि इस Narmadeshwar Shivling की पूजा करने से रोग और विकार दूर हो जाते हैं।
3. शनि की साढ़े साती चरण के दौरान, जातक पर शनि के प्रभाव को कम करने के लिए नर्मदा से प्राप्त इस शिवलिंग की पूजा की जाती है।
4. इसके द्वारा अशुभ ग्रहों का विपरीत प्रभाव भी कम होते है।
5. नर्मदेश्वर शिवलिंग की पूजा और ध्यान करने से एकाग्रता और ज्ञान में वृद्धि होती है।
6. यह अपनी तरह का अनोखा Narmadeshwar Shivling भगवान शिव की ऊर्जा के साथ तालमेल बिठाने का एक उत्कृष्ट साधन है।
7. इसका उपयोग आध्यात्मिक विद्वानों और भगवान शिव के अनुयायियों द्वारा पीढ़ियों से मोक्ष प्राप्ति के लिए किया जाता रहा है।
8. नर्मदा नदी में पाया जाने वाला यह शिवलिंग जातक के जीवन में समृद्धि लाता है।
9. यह विशेष रूप से परिवार के सदस्यों और शादीशुदा जोड़ों के बीच सामंजस्यपूर्ण संबंधों के रखरखाव में एकता और सहायता का काम करता है।
10. इस मंगलकारी और उत्कृष्ट नर्मदेश्वर शिवलिंग की पूजा करने से नकारात्मक कर्मों का नाश होता है।
11. नर्मदा लिंगम का उपयोग करके वास्तु दोष को ठीक किया जा सकता है।
शिवलिंग कहा से खरीदे ?
chatboticon

Say Hi and Get Flat 80% Off

×