vastu tips for dukan-रातोरात बन जाओगे कई शोरूम्स के मालिक

Vastu tips for Shop

नमस्कार दोस्तों मैं आदर्श मिश्रा आप सभी का अभिनंदन करते हैं। बहुत सारे लोग व्यवसाय के माध्यम से अपना जीवन यापन करना चाहते हैं और उसे धन का उपार्जन करना चाहते हैं।


vastu shastra tips in hindi for shop


बहुत सारे लोग वेबसाइट करना च

Vastu tips for Shop

नमस्कार दोस्तों मैं आदर्श मिश्रा आप सभी का अभिनंदन करते हैं। बहुत सारे लोग व्यवसाय के माध्यम से अपना जीवन यापन करना चाहते हैं और उसे धन का उपार्जन करना चाहते हैं।


vastu shastra tips in hindi for shop


बहुत सारे लोग वेबसाइट करना चाहते है। पहले लोग दुकान से प्रारम्भ करेंगे। अगर अपने दुकान ले लिया। यह सबसे ठीक है।अगर अपने दुकान नहीं लिया है। आपको मे कुछ चीजे बताता हूँ। मे आपको कुछ आसान चीजे बताता हूँ ।पहले आप देखे फिर ले। सबसे पहले दुकान आयताकार या वर्गाकार होना चाहिए। ये आपको मे वास्तु के हिसाब से बता रहा हूँ । दुकान का मुख्या द्वार उत्तर या पूर्व दिशा मे होना चाहिए। आपके दुकान की सीढ़िया हमेशा पश्चिम दिशा मे होना चाहिए।अगर आप दुकान लेने के लिए जा रहे है।इस सब बातो का ध्यान रखे।

dukan ka vastu shastra in hindi


ज्यादातर क्या होता है। हमें आयताकार या वर्गाकार दुकान नहीं मिल पाती है। आप कोशिश कीजिये उस दुकान को आयताकार का वर्गाकार बनाये।


vastu tips in hindi for wealth


दूसरा, अगर आप धन का उपजन नहीं कर पा रहे है। समय दे रहे है। पूजा पाठ कर रहे है। रात दिन मेहनत कर रहे है। फिर भी आप वृद्धि नहीं कर पाए रहे है। आज आपको मे 4 -5 चीजे ऐसे बताने जा रहा हूँ। इसको अपनाकर आप अपना जीवन सफल बना सकते है।


vastu for shop facing east


आप सुबह सुबह जाते है। आप अपनी दुकान मे झाड़ू अवस्य मारते होंगे। उसका जो भी कूड़ा निकलता है। उस कूड़े को इकट्ठा करे। उस कूड़े को आप पूर्व या पश्चिम दिशा मे डाले। कोशिश करे आप एक कूड़ादान रखे। अगर आप वास्तु के अनुसार चलते है। आपका दुकान चलना ही चलना है । अगर आप बैठ गए। आमदनी नहीं हो पाए रही है । इसमें वास्तु का बहुत बड़ा दोष है।


dukan ka vastu shastra in hindi


आप दक्षिण या पूर्व दिशा मे कूड़ादान बनाये । आप इस दिशा मे अपनी पेटी को रखे। अगर आप की दुकान के आगे कोई ठेला लगाता है। कोई अपनी गाड़ी खड़ी करता है। यह वास्तु दोष माना गया है । अगर कोई ग्राहक अपनी गाड़ी खड़ी करता है। तब यह ठीक है।


vastu tips for money luck


अगर आप गाना सुन रहे। कई बार क्या होता है आप ऊंचे स्वर मे गाना सुन रहे होते है। आप अपने गाने का स्वर कम रखे ,ये वास्तु के हिसाब से अच्छा है ।इस से आपकी वृद्धि होगी। कई बार देखा गया है , दुकान के सामने मिटटी अथवा कूड़े का ढेर होता है। ये वास्तु के हिसाब से अच्छा नहीं है ।


vastu tips for wealth and happiness


अगर आपकी दुकान मैन-रोड पर है । उस पर धूल मिटटी आती है ।कोशिश करे आप पन्नी लगा दे। अगर आप ये करते है। आपको लाभ नहीं मिल पाता है। आप चाहे तो दुकान मे या घर मे एक कम कर दे । अपने घर या दुकान मे कुबेर यन्त्र की इस्थापा कर दे । आप प्रयास करे आपका मुख उत्तर दिशा मे हो । उत्तर दिशा मे कुबेर का वास होता है । पूर्व मे सूर्य का वास होता है ।इसीलिए बोलते है ,उत्तर या पूर्व दिशा मे बैठने के लिए। कोशिश करे उत्तर दिशा मे बैठे। उत्तर दिशा मे कुबेर बागवान का वास होता है।

vastu tips for kitchen in hindi-किचन की ये गलतिया के कारण बना सकती है गरीब

vastu tips for kitchen in hindi

आप सभी का हार्दिक अभिनंदन करते हैं, दोस्तों जीवन मे हम मेहनत किस लिए करते है। हमें भोजन में किसी प्रकार की दिक्कत ना हो आवश्यकता हो वह चीज उन्हें मिल जाते हैं। वास्तु के हिसाब से हर काम करते हैं। हम यह बात भूल जाते ह

vastu tips for kitchen in hindi

आप सभी का हार्दिक अभिनंदन करते हैं, दोस्तों जीवन मे हम मेहनत किस लिए करते है। हमें भोजन में किसी प्रकार की दिक्कत ना हो आवश्यकता हो वह चीज उन्हें मिल जाते हैं। वास्तु के हिसाब से हर काम करते हैं। हम यह बात भूल जाते है।

ghar ka kitchen kis disha me hona chahiye


किचन में भी वास्तु होता है। किचन किस प्रकार होना चाहिए। महिलाओ के साथ-साथ पुरुषो को भी यह बात ध्यान मे रखनी चाहिए। वास्तु से संबंधित की सजावट के सामान रखा हुआ है। घर में खाने की तरीका और इस जीवन में परिपूर्ण रहेगा। किचन मे सब कुछ रहता है। हमारे जीवन आनंद में व्यतीत होता है। किचन किस दिशा मे होना चाहिए ।गैस चूल्हा किस दिशा मे होना चाहिए। पानी पीने का कहाँ होना चाहिए । वास्तु से संबंधित कहाँ होना चाहिए। बात करते है गैस चूल्हा, सिलिंडर ,गैस चूल्हा ,फ्रिज ये सब चीजे कहाँ - कहाँ होना चाहिए।


vastu shastra tips in hindi for kitchen


जब भी हम किचन का निर्माण कराये। दक्षिण या पूर्व दिशा जिसको हम अग्निकोण बोलते है । किचन हम इस दिशा मे निर्माण कराये। अगर नहीं हो पाता है। तब हम वैकल्पिक दिशा उत्तर या पश्चिम मे हम निर्माण करा सकते है। प्रयास करे आप दक्षिण या पूर्व दिशा मे किचन का निर्माण कराये। निर्माण करते समय इन सब चीजों का ध्यान रखे कितना होना चाहिए। आपको कि दक्षिण पूर्व दिशा अग्नि किचन होना चाहिए भी लगा सकते हैं। पानी पीने का इंतजाम उत्तर या पूर्व दिशा मे रखे। वह से हमें सकारात्मक ऊर्जा प्राप्त होती है। पानी पीने के लिए व्यवस्था होना चाहिए। हमेशा उत्तर और पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए।


vastu tips for kitchen sink


कुछ किचन का वास्तु के हिसाब से होता है। इसका पालन करते हैं। उसके साथ साथ सिंक हाथ धोने के लिए होना चाहिए ।उसकी दिशा नार्थ ईस्ट मे होना चाहिए। किचन मे हम हर तरह के पत्थर लगाते है । ध्यान रखे किचेन मे हरा रंग का पत्थर लगाए । भूल कर काळा रंग का पत्थर न लगाए ।जब भी आप खाना बनाते है। तब आपका मुँह पूर्व की तरफ होना चाहिए ।


vastu tips for kitchen door


साथ मे किचन का मैन गेट लगाते है। किचन के मैन गेट का परदा कभी आपके पीठ के पीछे नहीं होना चाहिए। अगर आप फ्रिज रखते है। आपके फ्रिज की दिशा उत्तर या पश्चिम दिशा मे होनी चाहिए। किचन मे खिड़की के नीचे चूल्हा नहीं लगाना चाहिए।ऐसा हमें इसीलिए नहीं करना चाहिए। ये अशुभ होता है । अगर आप चाहे तोह उसके दाये या बाये कर सकते है। खिड़की के नीचे चूल्हे का प्रयोग न करे। अगर आप ये वास्तु प्रयोग मे लाते है। आपको धन की कोई कमी नहीं होनी वाली। आपके घर मे सुख ,शांति रहेगी।


vastu tips wealth hindi


आजकल बहुत सारी परेशानी होती है। लोग वास्तु का अच्छे से पालन नहीं करते है। अगर आप वास्तु के नियमो का पालन कर लेते है । यह अच्छी बात है। अगर आप नहीं कर पाते है। इसका समाधान है आप लाल कलर का क्रिस्टल गेट पर लगा दे। इस से वास्तु दोष आपका दूर होगा । आप अन्न इत्यादि से परिपूर्ण रहेंगे। दोस्तों आज मैंने वास्तु टिप्स बताया है । इस प्रकार की खबरे मे आपके लिए लाता रहूँगा।

vyapar me vridhi ke upay in hindi-व्यापार मे तरक्की का एकमात्र सटीक मंत्र

vyapar vridhi mantra


दोस्तों आज हम बात करेंगे की जो व्यक्ति व्यापार करते है। किसी ने दुकान लिए हुआ है।  कोई ऑफिस चला रहा है। किसी न किसी माध्यम से कोई न कोई व्यापार कर रहे है। उनसे उनका जीवन यापन भी होता है।

vastu shop
पहले तो मैं आपको ये बत

vyapar vridhi mantra


दोस्तों आज हम बात करेंगे की जो व्यक्ति व्यापार करते है। किसी ने दुकान लिए हुआ है।  कोई ऑफिस चला रहा है। किसी न किसी माध्यम से कोई न कोई व्यापार कर रहे है। उनसे उनका जीवन यापन भी होता है।

vastu shop
पहले तो मैं आपको ये बतऊँगा की यदि हम दुकान देखने के लिए जाते है।  ऑफिस को तो हमेशा प्रयत्न करे। ऑफिस  उनका जो मुख गेट हो या तो उत्तर दिशा में हो या तो पूर्व दिशा में हो। अब इसका मुख रीज़न ये है।

vastu for east  facing shop
वास्तु सस्त्र के अनुसार, धर्म सस्त्रो के अनुसार जो पूर्व दिशा होती है। वो भगवन सूर्य की होती है। अपने देखा भी होगा सूरज पूर्व दिशा से ही निकलता है। वह से धन का भी लाभ होता है। अपना यश मान सामान भी बढ़ता है। इसका कारण भी सूर्य है। नवग्रह के राजा जो है। सूर्य को ही बतया गया है।

vastu for west  facing shop
पूर्व दिशा की और मुख गेट होना चाहिए। उत्तर दिशा कुबेर का स्थान दिया होता है। धन प्राप्ति में कुबेर को बहुत विशेष माना गया है। वही से धन आता है। माँ लश्मी प्रसन्न हो जाती है। ऐसा धर्म  शास्त्र और वास्तु  शास्त्र में भी कहा गया है। हम देखने जाते है बहुत स्पेस नहीं होता है। स्पेस मिल नहीं पता है। फिर हमे मजबूरन किसी भी दिशा की और दुकान लेना होता है। वयसाय करना पड़ता है।

vastu tips for wealth
जैसा की मैंने बतया उत्तर दिशा में कुबेर और पूर्व दिशा में सूर्य भगवान होते है। आप प्रयत्न्न करेंगे काउंटर का जो मुख है जहा आप बैठ रहे है। वो पूर्व दिशा की तरफ या फिर उत्तर दिशा की तरफ होना चाहिए है। ये चीज़ धयान रखे, जहा पर आप बैठते है। वह ऑफिस की फाइल, कैलकुलेटर , या चेक बुक होता है। इस सब को अपने दाहिने साइड रखना चाहिए है। इससे लाभ होगा। धन की प्राप्ति होगी। मन में शांति मिलेगी पॉजिटिव रहेगा कार्य भी आचा चलेगा। जो प्रवेश होता है गेट का  उस गेट को अंदर की तरफ खुलना चाहिए। उसके बाद भी एक गेट होता है तो वो अंदर की तरफ खुले हो।

isan kon
दोस्तों ईशान कोड में आप अपना मंदिर बनाये। ईशान मतलब ईश्वर,   ईश्वर को वो स्थान दिया हुआ है। वही से वो प्रवेश करते है। इसलिए वह से पॉजिटिव एनर्जी आती है। नैऋतव कोड को खली रखना है इसमें कोई भी भरी भरकम सामान नहीं रखना है। वहा पर आप हलके सामान रखे। यदि आप वाशरूम बनाते है। तो धयान रखे मंदिर के ऊपर नहीं होना चाहिए वाशरूम, या सामने नहीं होना चाहिए। इसका आप विशेष ध्यान रखे। इससे बाद आप का दुकान आचा चलेगा। यदि नहीं हो पता है ऐसा प्रयाश करके थक जाते है। मेहनत का फल नहीं मिल पता है। इतना धायण रखने के वावजूद भी नहीं हो पाते है। काम तो आप इस परिस्तिति में क्या करे।

vastu for money
जहा मंदिर है। वह आप कुबेर यन्त्र की इस्तापना करे । दुकान में भी कुबेर यन्त्र की इस्तापना करे। और पूजा करे।  माँ लश्मी अवश्य प्रश्न होगी।  दुकान आपका चलने लगेगा। फिर से  आप खुशहाल हो जायेगे। जीवन धन धन्य से पारी पुण्य होगा। अच्छा समय प्रतीत होगा ।परिवार में सुख शांति का माहौल बनेगा।

vyapar me vridhi ke upay in hindi-व्यापार मे तरक्की का एकमात्र सटीक मंत्र

vyapar vridhi mantra


दोस्तों आज हम बात करेंगे की जो व्यक्ति व्यापार करते है। किसी ने दुकान लिए हुआ है।  कोई ऑफिस चला रहा है। किसी न किसी माध्यम से कोई न कोई व्यापार कर रहे है। उनसे उनका जीवन यापन भी होता है।

vastu shop
पहले तो मैं आपको ये बत

vyapar vridhi mantra


दोस्तों आज हम बात करेंगे की जो व्यक्ति व्यापार करते है। किसी ने दुकान लिए हुआ है।  कोई ऑफिस चला रहा है। किसी न किसी माध्यम से कोई न कोई व्यापार कर रहे है। उनसे उनका जीवन यापन भी होता है।

vastu shop
पहले तो मैं आपको ये बतऊँगा की यदि हम दुकान देखने के लिए जाते है।  ऑफिस को तो हमेशा प्रयत्न करे। ऑफिस  उनका जो मुख गेट हो या तो उत्तर दिशा में हो या तो पूर्व दिशा में हो। अब इसका मुख रीज़न ये है।

vastu for east  facing shop
वास्तु सस्त्र के अनुसार, धर्म सस्त्रो के अनुसार जो पूर्व दिशा होती है। वो भगवन सूर्य की होती है। अपने देखा भी होगा सूरज पूर्व दिशा से ही निकलता है। वह से धन का भी लाभ होता है। अपना यश मान सामान भी बढ़ता है। इसका कारण भी सूर्य है। नवग्रह के राजा जो है। सूर्य को ही बतया गया है।

vastu for west  facing shop
पूर्व दिशा की और मुख गेट होना चाहिए। उत्तर दिशा कुबेर का स्थान दिया होता है। धन प्राप्ति में कुबेर को बहुत विशेष माना गया है। वही से धन आता है। माँ लश्मी प्रसन्न हो जाती है। ऐसा धर्म  शास्त्र और वास्तु  शास्त्र में भी कहा गया है। हम देखने जाते है बहुत स्पेस नहीं होता है। स्पेस मिल नहीं पता है। फिर हमे मजबूरन किसी भी दिशा की और दुकान लेना होता है। वयसाय करना पड़ता है।

vastu tips for wealth
जैसा की मैंने बतया उत्तर दिशा में कुबेर और पूर्व दिशा में सूर्य भगवान होते है। आप प्रयत्न्न करेंगे काउंटर का जो मुख है जहा आप बैठ रहे है। वो पूर्व दिशा की तरफ या फिर उत्तर दिशा की तरफ होना चाहिए है। ये चीज़ धयान रखे, जहा पर आप बैठते है। वह ऑफिस की फाइल, कैलकुलेटर , या चेक बुक होता है। इस सब को अपने दाहिने साइड रखना चाहिए है। इससे लाभ होगा। धन की प्राप्ति होगी। मन में शांति मिलेगी पॉजिटिव रहेगा कार्य भी आचा चलेगा। जो प्रवेश होता है गेट का  उस गेट को अंदर की तरफ खुलना चाहिए। उसके बाद भी एक गेट होता है तो वो अंदर की तरफ खुले हो।

isan kon
दोस्तों ईशान कोड में आप अपना मंदिर बनाये। ईशान मतलब ईश्वर,   ईश्वर को वो स्थान दिया हुआ है। वही से वो प्रवेश करते है। इसलिए वह से पॉजिटिव एनर्जी आती है। नैऋतव कोड को खली रखना है इसमें कोई भी भरी भरकम सामान नहीं रखना है। वहा पर आप हलके सामान रखे। यदि आप वाशरूम बनाते है। तो धयान रखे मंदिर के ऊपर नहीं होना चाहिए वाशरूम, या सामने नहीं होना चाहिए। इसका आप विशेष ध्यान रखे। इससे बाद आप का दुकान आचा चलेगा। यदि नहीं हो पता है ऐसा प्रयाश करके थक जाते है। मेहनत का फल नहीं मिल पता है। इतना धायण रखने के वावजूद भी नहीं हो पाते है। काम तो आप इस परिस्तिति में क्या करे।

vastu for money
जहा मंदिर है। वह आप कुबेर यन्त्र की इस्तापना करे । दुकान में भी कुबेर यन्त्र की इस्तापना करे। और पूजा करे।  माँ लश्मी अवश्य प्रश्न होगी।  दुकान आपका चलने लगेगा। फिर से  आप खुशहाल हो जायेगे। जीवन धन धन्य से पारी पुण्य होगा। अच्छा समय प्रतीत होगा ।परिवार में सुख शांति का माहौल बनेगा।

vastu tips for east facing house-कैसे सुख और समृद्धि लाये ईस्ट फेसिंग घर मे

East facing vastu door


दोस्तों अगर हम बात करे दिशाओ की वास्तु और ज्योतिष सस्त्र में बहुत महत्व है। जैसा की हम जानते है हिन्दू धर्म के अनुसार 10 दिशाए बताई गई है।


east facing house vastu


उन्ही में से अपना अलग अलग महत्व है। उस दिशा में क्या रखना

East facing vastu door


दोस्तों अगर हम बात करे दिशाओ की वास्तु और ज्योतिष सस्त्र में बहुत महत्व है। जैसा की हम जानते है हिन्दू धर्म के अनुसार 10 दिशाए बताई गई है।


east facing house vastu


उन्ही में से अपना अलग अलग महत्व है। उस दिशा में क्या रखना चाहिए हमें उससे क्या लाभ प्रपात हो सकते है। कैसे उस दिशा से और अपने घर से कैसे नकारात्मक ऊर्जा को दूर सकते है। जैसा की हम देखे पूर्व दिशा सूर्य की दिशा होती है। इस दिशा से सकारात्मक किरणे हमारे घर में प्रवेश करती है। घर के मुखिया की लम्बी उम्र और उसके संतान के सुख के लिए घर के प्रवेश द्वार, खिड़की का इस दिशा में होना बहुत ही शुभ माना जाता है।


study tips

साथ ही साथ विद्यार्धी को इस दिशा में मुख करने के साथ पढ़ना चाहिए। दरवाजे पर ॐ स्वस्तिक त्रिशूल उतना ही लगाना आवश्यक है। जितना की आप घर में पूजन इत्यादि करवाते है। आप उसका अपने बैडरूम के दरवाजे में लगा सकते है। फिर घर के मैन द्वार पर भी लगा सकते है यह बहुत शुभ माना जाता है। कहते ही किसी भी घर के भर ॐ स्वस्तक त्रिशूल अभिमंत्रित करके लगवाया जाये। उसका पूर्व दिशा में होना विशेष फलदायी होता है।


vastu for wealth and prosperity


उस घर में कभी में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं करती है। सदा सुख समृद्धि वैभव बना रहता है। अगर हम बात करे पश्चिम दिशा की, उस दिशा में भूमि का ऊचा होना , सफल और कीर्ति के लिए शुभ माना जाता है। यह शुभ संकेत होता है। पश्चिम दिशा की भूमि थोड़ी से ऊँची होना शुभ संकेत माना जाता है। अगर आपका रसोई घर और बेडरूम इसी दिशा में है। इसका भी अलग एक महत्व है।


ishan kon



अगर हम बात करे उत्तर-पूर्व दिशा की इस दिशा को ईशान कोढ़ कहा जाता है। जैसा की वास्तु सस्त्र के अनुसार इस दिशा को जल की दिशा भी कहा जाता है। इस दिशा में पूजा स्थल, स्विमिंग पूल, होना चाहिए। ईशान कोढ़ बड़ा ही पवित्र माना गया है।


vastu tips for positive energy


इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव अधिक रहता है। घर का गेट इस दिशा में होना बेहद ही शुभ माना जाता है अगर आप का मुख गेट ईशान कोढ़ की दिशा में है तो समझ लीजिये जीवन में कुछ समस्या आ रही है तो वास्तु दोष बन रहा होता है कुछ विपरीत आपके घर में घट रहा हो।

North facing house vastu - घर मे लक्ष्मी के लिए वास्तु की सही दिशा

North facing house


वास्तु और ज्योतिसे सस्त्र में ऐसे उपाय बताये गए है। जिसके करने मात्रा से अपना जीवन परिपत्रित कर सकते है। जल्द से जल्द अगर कोई समस्या अपने जीवन में आती है। जल्द से जल्द उसका निवारण कर सकते है।

vastu for money

अगर हम बहु

North facing house


वास्तु और ज्योतिसे सस्त्र में ऐसे उपाय बताये गए है। जिसके करने मात्रा से अपना जीवन परिपत्रित कर सकते है। जल्द से जल्द अगर कोई समस्या अपने जीवन में आती है। जल्द से जल्द उसका निवारण कर सकते है।

vastu for money

अगर हम बहुत से पैसे कमाते है और पैसा आपके घर में रुकता नहीं है इसका सीधा सा अर्थ ये है आपका लॉकर सही जगह पर नहीं रखा गया है। अगर आपके पास लॉकर को हटाने का विकल्प भी नहीं है तो फिर भी आप परेशान न हो क्योकि वास्तु और ज्योतिष सस्त्र के अनुसार इसमें भी उपाय बताये गए है तो आप वास्तु और ज्योतिष सस्त्र में जो उपाय बताये गए है उस उपाय के माध्यम से इस दुष प्रभाव को दूर कर सकते है। जैसे धन आता है और व्यर्थ में खर्च हो जाता है।

vastu for locker in bedroom

अगर दक्षिण दिशा में आपका लॉकर है तो उसके ऊपर किसी पहाङ की फोटो जरूर लगाए। साथ ही साथ तस्वीर लगते समय इस बात का ध्यान रखे की उसमे जल न हो। अगर उस फोटो में जल या पानी होगा तो आपका धन भी पानी की तरह चला जायेगा। उत्तर दिशा में आपका मंदिर हो या फिर धर्म स्थल को फोटो वह पर लगाए। इससे आपके धन सम्बंधित स्थति सकारात्मक बनी रहेगी।

vastu for photos


नीले रंग की फोटो जरूर लगाए जहा आप धन रखते है। आपके लॉकर के आस पास शीशा जरूर लगाए इससे आपके धन की स्थति दोगुनी हो जाएगी। लॉकर का फोटो शीशे में जरूर दिखना चाहिए। अगर जाती हुई लक्ष्मी भी होगी। वह स्वरुप देख कर पुनः वापस स्थति हो जाएगी ऐसा वास्तु सस्त्र में माना जाता है।

mirror direction as per vastu

ये जरूर ध्यान रखे आपके उत्तर पश्चिम और दक्षिण पश्चिम दिशा में दर्पण कभी भी न हो। इससे नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है। जो रिफ्लेक्शन बनेगा वो धन की स्थति को बहार निकल सकता है। साथ ही साथ सुख समृद्धि हेतु आपकी जो कीमती वस्तु या धन दक्षिण पश्चिम दिशा में ही रखना चाहिए।

vastu for locker in bedroom


जेवेलरी और माकन के कागज उत्तर दिशा में होना चाहिए। ध्यान रखे आपका लॉकर किसी खिड़की या प्रवेश गेट के पास नहीं होना चाहिए। लॉकर को उस जगह न रखे। जहा पर हर आने जाने व्यक्ति को दिखाई दे। अगर को अपनी बुरी नज़र से आपको देख रहा है। वह अपनी नकरात्मक ऊर्जा को वह छोड़ेगा आपका धन बड़ी सरलता से चला जायेगा। जहा आपका लॉकर है। उसके पास कोई भी कबाड़ न रखे। इससे धन के आवा गमन में अवरोध उत्पन होगा और धन की स्थति रुक जाएगी।

vastu for mandir in home

ध्यान रखे दक्षिण दिशा में आप अपना मंदिर कभी न बनाये। मंदिर उस जगह होना चाहिए। जहा पर आपका मुख पूर्व दिशा में हो। बहगवां का मुख आपकी तरफ हो। तो आप ये छोटी छोटी बातो का ध्यान रखे। और अपना जीवन सरल और सुखमये बनाये।

south direction vastu-जानिए कैसे दक्षिण दिशा का घर भी भाग्यशाली होता है

South facing house vastu

दोस्तों आज हम बात करेंगे वास्तु शास्त्र से सम्बन्ध्ति कुछ विशेष चीज़ो पर जैसा की हम जानते है वास्तु शास्त्र और ज्योतिस के अनुसार घर में कुछ थोड़े से फेर बदल कर लेते है। उसका असर हमारे जीवन में जल्द से जल्द पड़ता है। सकार

South facing house vastu

दोस्तों आज हम बात करेंगे वास्तु शास्त्र से सम्बन्ध्ति कुछ विशेष चीज़ो पर जैसा की हम जानते है वास्तु शास्त्र और ज्योतिस के अनुसार घर में कुछ थोड़े से फेर बदल कर लेते है। उसका असर हमारे जीवन में जल्द से जल्द पड़ता है। सकारात्मक पड़ता है।

south west entrance vastu

कई बार हमे इसका ज्ञान ही नहीं होता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार कई सारी चीज़े घटित हो रही होती है। हमारे जीवन काल में या हमरे घर के आस पास ऐसे ऊर्जा महसूस होती है। जिसके कारण नकारात्मक सोच हमारी हो जाती है।

south facing house vastu

सभी कार्य बिगड़ने लगते है। घर में किसी का स्वस्थ बिगड़ने लगता है। धन हमारे घर में स्थितर नहीं रहता है। यह तो सबके जीवन में घटने वाली घटना है। धन सब स्थितर करना चाहते है। लेकिन घर की गति ही ऐसी है। आज हमारे पास यही कल किसी और के पास चला जाता है।

south west vastu dosh remedies

कई घर वास्तु के अनुसार चलते वक़्त बड़ा ही सुलभ बना लेते है। ऐसे में हम बात कर रहे है। दक्षिण पश्चिम दिशा की घर के मुखिया के बारे में बताता है। अगर इस दिशस में मुखिया का कमरा हो। वहा से वह पुरे घर को संचालित करे। निश्चित तोर में उस घर में लक्ष्छ्मी आपके घर से नहीं जाती है।

south west facing house vastu

अगर इस दिशा में मशीनरी का सामना रखा जाये। वो भी शुभ होता है। आपकी दुकान का कॅश काउंटर भी इसी दिशा में होना चाहिए। दक्षिण पश्चिम दिशा में। अगर आप इस सुझाव को मानते है।वह लश्मी का आवा गमन बहुत ज़्यदा होगा। आपकी लश्मी स्थितर रहेगी। दिशा का बहुत महत्त्व बताय गया है।

south west vastu

इस वास्तु शास्त्र में मार्तुय के देवता है यमदेव, दक्षिण पश्चिम दिशा के मध्य में फेर बदल किया जाये। जीवन को जल्द से जल्द परिवर्तित किया जा सकता है। अच्छे फल की प्राप्ति हो जाती है।

south east facing house-जानिए अपने घर के वास्तु की सही दिशा

ishan cone


वास्तु शास्त्र के अनुसार हर दिशा का एक अलग ही महत्व होता है। हम बात करेंगे दक्षिण पश्चिम दिशा की इस दिशा को नैऋत्व कोढ़ के विषय में सुना होगा।

vastu directions for house


इस दिशा में खुलापन खिड़की दरवाजे बिलकुल नहीं होने चाहिए, घर

ishan cone


वास्तु शास्त्र के अनुसार हर दिशा का एक अलग ही महत्व होता है। हम बात करेंगे दक्षिण पश्चिम दिशा की इस दिशा को नैऋत्व कोढ़ के विषय में सुना होगा।

vastu directions for house


इस दिशा में खुलापन खिड़की दरवाजे बिलकुल नहीं होने चाहिए, घर के मुखिया का कमरा इस दिशा में होना चाहिए वही इस दिशा के अधिपति है वही से वह अपने घर को चला सकते है।

vastu for cash counter in shop


साथ ही साथ इस बात का ध्यान रखे आपका जो धन कोश हो या मशीनरी का सामान हो वह भी आप इस दिशा में रख सकते है। अगर आपकी दुकान है तो उसका कॅश काउंटर भी इसी दिशा में होना चाहिए। अगर आपकी दुकान में मशीन का सामान हो तो इसी दिशा में रखे। अगर इस दिशा के अनुसार आप ये नियम मानते है तो निश्चित तोर पे आपकी समस्या जल्द से जल्द धन की समस्या और कोई भी समस्या पूरी हो जाती है।

south facing shop vastu


विशेष तोर पे हम दुकान की बात करते है दक्षिण पश्चिम में अगर मशीन और कॅश काउंटर रखते है तो उससे आने वाले ग्राहक भी आपसे प्रभावित होंगे। और आपकी ज़्यदा से ज़्यदा आपकी बिक्री होगी। और धन में भी आपकी वृद्धि होगी।

how to remove negative energy from home


ऐसा वास्तु के अनुसार हमे बतया गया है । और अगर घर में इस दिशा में मशीन को रखते है तो नकारत्मक ऊर्जा वही तक सिमित हो जाएगी। और आप तक वो प्रबह्व नहीं डालेगी। इसलिए कहते है वास्तु शास्त्र और ज्योतिष के अनुसार चले तो आपका लाभ ही लाभ है और जो गलतिया हमसे हो जाती है उनका भी निवारण हमे मिल जाता है।

vastu tips for shoes and slippers-जानिए वास्तु टिप्स शूज और स्लिपर्स के लिए

vastu tips for shoes in hindi

हम सभी अपनी मनोकामना को पूर्ण करने के लिए ।हम घर मे वास्तु के अनुसार किचेन ,वाशिंग ,डाइनिंग प्लेस बनाते है ।क्या वह सब वास्तु के हिसाब से है ।सबसे मुख्या चीज जुटे व् चप्पल होती है ।हम जूते बाहर उतारते है । घर मे प्रवे

vastu tips for shoes in hindi

हम सभी अपनी मनोकामना को पूर्ण करने के लिए ।हम घर मे वास्तु के अनुसार किचेन ,वाशिंग ,डाइनिंग प्लेस बनाते है ।क्या वह सब वास्तु के हिसाब से है ।सबसे मुख्या चीज जुटे व् चप्पल होती है ।हम जूते बाहर उतारते है । घर मे प्रवेश करते है ।हमें पूर्ण रूप से जूते चप्पल खा रखने चाहिए ।कहा उतारने चाहिए ।अपने घर मे देखा होगा ।घर मे जो चरण पादुका होती है। घर के बाहर होती है।

charan paduka

चरण का विशेष महत्त्व है ।भगवन श्री राम की चरण पादुका भारत ने 14 साल तक रखे रहे ।उस चरण पादुका की पूजा करि ।ज्योतिष मे नहीं ,वास्तु शास्त्र का विशेष महत्व है।आपका घर किसी भी दिशा मे हो । उत्तर मे हो ।पूर्व मे हो,दक्षिण मे हो ।पश्चिम मे हो । जब भी आप घर मे प्रवेश करते समय जो पश्चिम दिशा मे हो । पश्चिम दिशा मे जुटे चप्पल रखे । एक रेक बनवा दे । सारे जूते चप्पल रख दे।

shoes

अगर आप जूता -चप्पल कही भी रख देते है ।आपको शनि का प्रकोप झेलना पड़ेगा ।इस प्रकार से आपको जूता चप्पल पश्चिम दिशा मे रख दे ।ध्यान रखे ,अगर आपके पास कोई भी टुटा जूता चप्पल है ,उसको आप बाहर किसी को दान कर दे।

negative energy

इस तरह से आप नेगेटिव ऊर्जा बाहर रहेगी ।आपको मानसिक व् शारीरिक परेशानी होती है । इसीलिए इस बात का विशेष ध्यान रखे।

negative thoughts

आपके घर मे नकारात्मक ऊर्जा का वास नहीं होगा ।हमेशा खुशी होगी।